Homeन्यूज़देश100 रुपये की कैंसर दवा से मिलेगा नया जीवन, आशा, उत्साह और अनगिनत संभावनाएं, जीवन को दिशा और नई...

100 रुपये की कैंसर दवा से मिलेगा नया जीवन, आशा, उत्साह और अनगिनत संभावनाएं, जीवन को दिशा और नई ऊर्जा से भर देगी

Date:

Share post:

टाटा इंस्टीट्यूट

मुंबई के टाटा इंस्टीट्यूट ने एक नई दवा विकसित की है जो Cancer के दोबारा होने की रोकथाम करेगी और इलाज के दुष्प्रभावों को 50% तक कम करेगी

cancer

देशभर में कैंसर से बड़ी संख्या में लोग हर साल अपनी जान गंवाते हैं। शुरुआती स्टेज में पहचान पर कैंसर के इलाज के लिए कीमोथेरापी और रेडियोथेरापी हैं, पर इनके गंभीर साइड इफेक्ट्स भी होते हैं।

मुंबई के टाटा इंस्टिट्यूट ने एक नई टैबलेट विकसित की है जो दोबारा कैंसर होने से रोकती है और साइड इफेक्ट्स को कम करती है

रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी के साइड इफेक्ट्स को 50% तक कम कर देगी

मुंबई के टाटा इंस्टिट्यूट ने कैंसर से जूझ रहे लोगों के लिए एक नई दवा विकसित की है, जो न केवल दोबारा कैंसर होने की संभावना को रोकेगी बल्कि रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी के साइड इफेक्ट्स को भी 50% तक कम करेगी।

चूहों पर किया गया पहला प्रयोग

टाटा अस्पताल की रिसर्च टीम ने चूहों पर एक नई दवा का प्रयोग किया, जिसमें रेस्वेराट्रोल और कॉपर (R+Cu) के मिश्रण से बनी प्रो-ऑक्सीडेंट गोलियां शामिल थीं, जो cancer कोशिकाओं को नष्ट करने में सक्षम थीं।

cancer

चूहों में कैंसर कोशिकाएं डालने के बाद उनमें ट्यूमर विकसित हुए, जिनका इलाज रेडियोथेरेपी, कीमोथेरेपी, और सर्जरी से किया गया। मृत cancer कोशिकाएं क्रोमैटिन कणों में टूट जाती हैं, जो शरीर के अन्य हिस्सों में फैल सकती हैं और स्वस्थ कोशिकाओं को कैंसरग्रस्त बना सकती हैं। इसे रोकने के लिए टाटा अस्पताल ने एक विशेष टैबलेट विकसित की है।

यह दवा कैसे लोगों में cancer के पुनरावृत्ति को रोकेगी

कीमोथेरेपी और रेडियोथेरेपी के दौरान मरने वाली cancer कोशिकाएं कोशिका-मुक्त क्रोमैटिन कण (सीएफसीएचपी) छोड़ती हैं, जो स्वस्थ कोशिकाओं में cancer को फैला सकते हैं और नए ट्यूमर बना सकते हैं। इस नई दवा का उद्देश्य कैंसर के दोबारा होने की संभावना को कम करना और इलाज के साइड इफेक्ट्स से रक्षा करना है।

Related articles

IAS सफलता कहानी: चंद्रज्योति सिंह की 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने

चंद्रज्योति सिंह ने 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने का सपना...

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2018 में, पूज्य प्रियदर्शनी ने देश भर में...

सफलता की उड़ान :मुजफ्फरपुर के कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF में 191वीं रैंक हासिल प्राप्त की

मुजफ्फरपुर के निवासी, कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF (Central Armed Police Forces) परीक्षा...

जगन्नाथ यात्रा: भक्ति और समर्पण का महापर्व

जगन्नाथ यात्रा, जिसे हिंदी में जगन्नाथ रथ यात्रा भी कहा जाता है, भारतीय हिंदू समाज में एक प्रमुख...