Homeमनोरंजनविधु विनोद चोपड़ा कि फिल्म '12th फेल' के सफल 100 दिन

विधु विनोद चोपड़ा कि फिल्म ’12th फेल’ के सफल 100 दिन

Date:

Share post:

12th Fail Movie के 100 दिन पूरे होने पर, डायरेक्टर की पत्नी ने दी थी यह अनोखी भविष्यवाणी, जो अब साकार हो गई है। क्या कहानी ने उन्हें बदल दिया

12 fail movie

12th फेल ने लोगों के शकों को दूर करके फिल्मफेयर बेस्ट फिल्म अवॉर्ड जीता। डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा ने बताया कि फिल्म को ओटीटी पर रिलीज करने का विचार पहले से ही था, क्योंकि उनकी वाइफ ने पहले ही कहा था कि लोग इसे थिएटर में नहीं देखेंगे। फिल्म डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा ने इंटरव्यू में कहा: ’12th फेल’ के 100 दिन पूरे होने पर, बॉक्स ऑफिस के आंकड़ों से ज्यादा महत्वपूर्ण है कि फिल्म को बनाने का इरादा क्या था और क्यों। उन्होंने बताया कि ईमानदारी से बनाई गई फिल्म दर्शकों के दिलों को छू सकती है और बॉक्स ऑफिस पर भी अच्छे नतीजे दिला सकती हैं।

विधु विनोद चोपड़ा ने ’12th फेल’ के मेकिंग और प्रमोशन में लगाए अपने पैसे

Vikrant Massey 12th fail

डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा ने खुलासा किया कि ’12th फेल’ के ओपनिंग दिन की आंकड़ों के बारे में ट्रेड एजेंसियों की आशंका थी। उन्हें डराया गया था कि दूसरे दिन तक की कमाई सिर्फ 2 लाख रुपये होगी और फिल्म का लाइफटाइम कलेक्शन लगभग 30 लाख रुपये होगा। उन्होंने बताया कि फिल्म को बनाने में उनका खुद का विश्वास और मेहनत ने फिल्म को सफलता दिलाई

फिल्म ’12th फेल’ के डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा और उनकी पत्नी अनुपमा चोपड़ा ने एक साथ होने वाले इवेंट में भाग लिया

12th Fail completed 100 days

फिल्म की सफलता में अनुपमा चोपड़ा की भूमिका: सक्सेस इवेंट में भी उनकी उपस्थिति ने बढ़ाई चर्चाएं। उन्होंने कहा, ‘यहां मेरा योगदान बहुत कम है, सफलता का पूरा-पूरा श्रेय फिल्म की टीम को जाता है। विधु विनोद चोपड़ा के साथ मिलकर उन्होंने साझा किया कि पहले उन्हें नहीं पता था कि फिल्म को देखने के लिए थिएटर में कौन आएगा, लेकिन उन्होंने अपनी गलती मानी और उन्हें आदर्श दर्शकों की मुहर लगाई। हालांकि, विधु विनोद चोपड़ा ने बताया कि उन्होंने फिल्म को इसलिए बनाया क्योंकि उन्हें इस पर पूरा विश्वास था और उन्होंने खुद के पैसे लगाए गए हैं, मेकिंग से लेकर प्रमोशन तक। उन्होंने कहा, ‘सच कहूं तो हर किसी ने मुझे डरा दिया था, लेकिन मैंने खुद पर विश्वास किया, पैसे लगाए मेकिंग से लेकर प्रमोशन तक ।

Related articles

IAS सफलता कहानी: चंद्रज्योति सिंह की 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने

चंद्रज्योति सिंह ने 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने का सपना...

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2018 में, पूज्य प्रियदर्शनी ने देश भर में...

सफलता की उड़ान :मुजफ्फरपुर के कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF में 191वीं रैंक हासिल प्राप्त की

मुजफ्फरपुर के निवासी, कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF (Central Armed Police Forces) परीक्षा...

जगन्नाथ यात्रा: भक्ति और समर्पण का महापर्व

जगन्नाथ यात्रा, जिसे हिंदी में जगन्नाथ रथ यात्रा भी कहा जाता है, भारतीय हिंदू समाज में एक प्रमुख...