HomeTrending Newsबर्फ की सफेद चादर में ढके उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल, देखें तस्वीरें

बर्फ की सफेद चादर में ढके उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल, देखें तस्वीरें

Date:

Share post:

जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, और उत्तराखंड में हुई बर्फबारी ने पूरे क्षेत्र में पारा गिरा दिया है। हिमाचल प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट के बीच तीसरे दिन भी बारिश और बर्फबारी का दौर जारी है। इसके अलावा, लंबे ड्राई स्पैल के बाद श्रीनगर, अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम सहित घाटी के कई इलाकों में बीती रात इस सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। उत्तराखंड में भी कई जिलों में बारिश और बर्फबारी हुई है।

हिमाचल प्रदेश के ऊंचे क्षेत्रों में बर्फबारी की भरमार हो रही है, जबकि अन्य क्षेत्रों में बारिश हो रही है। शिमला, हिमाचल प्रदेश की राजधानी, में इस सीजन और नए साल की पहली बर्फबारी हुई है। रोहड़ू और मालरोड़ में स्थित सैलानी बर्फबारी की खुशी में झूम रहे हैं। चंबा के खज्जियार में सीजन की पहली बर्फबारी हो रही है। जिले के चुराह, भरमौर, पांगी, और डलहौजी में बर्फबारी लगातार जारी है। पांगी के जनजातीय क्षेत्र में संपर्क अन्य भागों से कट गया है और अधिकांश पंचायतों में बिजली आपूर्ति ठप है।

चारधाम क्षेत्र में लगातार बर्फबारी हो रही है, खासकर केदारनाथ धाम में, जहां लगभग डेढ़ फीट की बर्फ जम चुकी है। इस बर्फबारी के बाद, कई पर्वतीय मार्ग बंद हो गए हैं। गंगोत्री-यमुनोत्री और बदरीनाथ हाईवे भी बर्फबारी के बाद से बंद हैं। बीआरओ गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग को खोलने के लिए प्रयासरत है।

उधर, गुरुवार रात श्रीनगर, अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम समेत घाटी के कई इलाकों में इस सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। उसी समय, जम्मू में बीती रात तीन बजे से सुबह तक बारिश हुई। बिगड़े मौसम के चलते रामबन में जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हो गया है। इससे पहले बुधवार को जम्मू-कश्मीर में कश्मीर घाटी समेत जम्मू संभाग के कई पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी के साथ मैदानी इलाकों में बारिश हुई है। जम्मू में तड़के बारिश हुई और दोपहर बाद धूप खिला रहा।

हिमाचल में किन्नौर जिले के ऊंचाई वाले इलाके बर्फ से लकदक हो गए हैं। किन्नौर जिले के रक्षम, भावावैली, छितकुल, कल्पा, कुन्नौचारंग, नेसंग, हांगो और चुलिंग में भारी बर्फबारी हुई है। कम ऊंचाई वाले भागों में बारिश दर्ज की गई है। ताजा हिमपात और बारिश से समूचा क्षेत्र ठंड की चपेट में आ गया है। सोलन जिले के बद्दी, नालागढ़ क्षेत्र में भी सुबह से वर्षा हो रही है। इससे जहां ठंड में इजाफा हुआ है, वहीं किसानों और बागवानों को भी राहत मिली है।

वहीं, उत्तराखंड के पर्यटन स्थलों में बर्फबारी का सिलसिला जारी है। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री समेत हर्षिल, चकराता, और टिहरी के सुरकंडा क्षेत्र में बर्फबारी होने से लोगों के चेहरे खिल उठे। चकराता और सुरकंडा में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। केदारनाथ में दिनभर बर्फबारी होती रही, जिससे लगभग डेढ़ फीट बर्फ जम गई है। बीते चार माहों में केदारनाथ में एक दिन में यह सबसे अधिक बर्फबारी है। वहीं, निचले इलाकों में देर शाम हल्की बारिश हुई है।

Related articles

IAS सफलता कहानी: चंद्रज्योति सिंह की 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने

चंद्रज्योति सिंह ने 2019 में यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में 28वीं रैंक हासिल करके IAS बनने का सपना...

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2018 में, पूज्य प्रियदर्शनी ने देश भर में...

सफलता की उड़ान :मुजफ्फरपुर के कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF में 191वीं रैंक हासिल प्राप्त की

मुजफ्फरपुर के निवासी, कुमार सात्विक ने अपने पहले ही प्रयास में UPSC CAPF (Central Armed Police Forces) परीक्षा...

जगन्नाथ यात्रा: भक्ति और समर्पण का महापर्व

जगन्नाथ यात्रा, जिसे हिंदी में जगन्नाथ रथ यात्रा भी कहा जाता है, भारतीय हिंदू समाज में एक प्रमुख...