Homeसक्सेस स्टोरीगृहिणी से किसान, 42 साल की उम्र में किया लाखों का कारोबार!

गृहिणी से किसान, 42 साल की उम्र में किया लाखों का कारोबार!

Date:

Share post:

रायपुर की कविता देव, पहले एक गृहिणी, अब मिलेट माँ! सब्जी जूस की बजाय उन्होंने जैविक खेती का समर्थन किया, जिससे करोड़ों का सफर तय किया है।

kavita devi millet farming

रायपुर की कविता देव आज ‘मिलेट माँ’ के रूप में मशहूर हैं। उनके 12 एकड़ के खेतों में न केवल फल-सब्जियां और मिलेट्स उगते हैं, बल्कि वहां से अनेक अन्य उत्पाद भी बनते हैं। उनकी यात्रा हमें प्रेरित करती है। कविता ने हमेशा अपने बच्चों के स्वास्थ्य को प्राथमिकता दी, उन्हें ताजा सब्जियों का रस पिलाया। लेकिन एक दिन उन्हें यह जानकर चौंकाने वाला अनुभव हुआ कि वह जो स्वस्थ समझ रही थीं, वास्तव में हानिकारक था। इसके बाद, उन्होंने जूस बनाना बंद कर और खुद की जैविक सब्जियों की खेती शुरू की। चार साल के परिश्रम के बाद, उनकी मेहनत ने उन्हें ज़्यादा ज़मीन खरीदने पर मजबूर किया

इस तरह बनी मिलेट माँ

millet farm

कविता ने धीरे-धीरे अपने खेतों में सब्जियां और अनाज की खेती शुरू की। उन्होंने यह सपना देखा कि उनके परिवार के साथ ही दूसरे लोगों तक भी स्वस्थ और प्राकृतिक खाने का संदेश पहुंचे। उन्होंने मिलेट से डोसा, इडली, और उपमा जैसे प्रोडक्ट्स तैयार किए। इस काम से उन्होंने सालाना 5 लाख से अधिक का टर्नओवर किया है और अपने परिवार को साथ ही अन्य लोगों को भी स्वस्थ जीवन जीने में मदद की है।

Related articles

बांस व्यवसाय की सफलता राष्ट्रभर से आ रहे भरपूर आदेश

बिहार के पूर्णिया जिले के माँ-बेटे आशा अनुरागिनी और सत्यम् सुंदरम् ने पर्यावरण प्रेम के साथ बांस व्यापार...

हरियाणा में नई राह पहली महिला ड्रोन पायलट द्वारा किसानों की तकदीर में तकनीकी क्रांति

रसोई से लेकर बच्चों की शिक्षा तक, सब कुछ आधुनिक हो चुका है। इस समय, खेती के क्षेत्र...

जीवन में बुरी परिस्थितियां है इंसान को मजबूत बनाती है कुछ ऐसी कहानी है कमल कुंभार की

आधुनिक भारत की कहानी: चूड़ियों की कहानी एक समय था, जब एक साधारण गाँव की लड़की, कमल कुंभार, सिर्फ...

ऑटो रिक्शा चालक के बेटे ने रचा इतिहास! पहले ही प्रयास में बने देश के सबसे युवा IAS अधिकारी, प्रेरणादायक है इनकी कहानी!

अंसार शेख नाम का एक युवक, जिन्होंने अपनी लगन और कड़ी मेहनत से ना सिर्फ सपनों को उड़ान...