Homeन्यूज़देशनिर्मला सीतारमण द्वारा छठी बार बजट: लक्षद्वीप को पर्यटन स्थल बनाने पर जोर

निर्मला सीतारमण द्वारा छठी बार बजट: लक्षद्वीप को पर्यटन स्थल बनाने पर जोर

Date:

Share post:

निर्मला सीतारमण ने संसद में लगातार छठी बार बजट पेश किया; लक्षद्वीप को पर्यटन स्थल बनाने के लिए बुनियादी सुधारों पर जोर दिया।

Lakshadweep

मालदीव के साथ चल रहे तनाव के बीच, भारत सरकार ने 2024 के अंतरिम बजट में लक्षद्वीप के विकास के बारे में महत्वपूर्ण घोषणा की है। गुरुवार को अंतरिम बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार लक्षद्वीप की मौजूदा बुनियादी ढांचे में सुधार करने पर जोर देगी, जिसमें पोर्ट कनेक्टिविटी, पर्यटन इंफ्रास्ट्रक्चर, और सुख-सुविधाएं शामिल होंगी। उन्होंने रोजगार और घरेलू पर्यटन में उत्साह बढ़ाने के लिए परियोजनाओं की शुरुआत की। यह अंतरिम बजट मोदी सरकार के वर्तमान कार्यकाल का छठा और आखिरी बजट है।

निशांत पिट्टी ने की सराहना

मालदीव के साथ चल रहे राजनयिक विवाद के बीच, लोग लक्षद्वीप को एक वैकेशन डेस्टिनेशन के रूप में देख रहे हैं। इस पर मोदी सरकार ने अंतरिम बजट में लक्षद्वीप के लिए विकास की घोषणा की है, जिसे लोग महत्वपूर्ण मान रहे हैं। बजट में लक्षद्वीप के लिए किए गए ऐलान को ईजमाईट्रिप के सीईओ निशांत पिट्टी ने एक दूरदृष्टि से बताया है। मालदीव के मंत्रियों की आपत्तिजनक टिप्पणियों के बाद पिट्टी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर मालदीव की सभी फ्लाइट्स की बुकिंग को रद्द करने का एलान किया था।

मालदीव और भारत के बीच राजनयिक तनाव

पिछले साल सितंबर में हुए मालदीव राष्ट्रपति चुनाव में मोहम्मद मुइज्जू ने विजय प्राप्त की थीं. उनकी पार्टी, पीपुल्स नेशनल कांग्रेस, चीन के समर्थक के रूप में पहचानी जाती है. इस बार, राष्ट्रपति ने भारत के साथ अपने पहले दौरे की बजाय तुर्की का दौरा किया और भारतीय सैनिकों की वापसी के लिए 15 मार्च को एक अल्टीमेटम जारी किया है. भारत और मालदीव के बीच 14 जनवरी को यह समझौता हुआ है कि द्वीप राष्ट्र से भारतीय सैनिकों की त्वरित वापसी होगी. विदेश मंत्रालय के अनुसार, मालदीव में लगभग 70 सैनिक और दो ध्रुव हेलीकॉप्टरों के साथ डोर्नियर 228 समुद्री गश्ती विमानों को स्थानांतरित किया जा रहा है।

पीएम मोदी के लक्षद्वीप दौरे के बाद बढ़ा विवाद

प्रधानमंत्री मोदी ने हाल ही में लक्षद्वीप का दौरा किया और वहां के सुंदर दृश्यों की तारीफ की, जिससे भारतीय पर्यटन को बढ़ावा मिले। उन्होंने अपनी सोशल मीडिया पर लक्षद्वीप की छवियों को साझा करते हुए यह प्रेरणा दी। लेकिन इसके परंतु, कुछ लोगों ने इसे मालदीव का एक विकल्प के रूप में देखा और उस पर आपत्ति जताई। इसके बाद, मालदीव के मंत्रियों ने प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की, जिसके बाद भारत ने नई दिल्ली में मौजूद मालदीव के राजदूत से इस मुद्दे पर चर्चा करने का निर्णय लिया।

प्रधानमंत्री मोदी के लक्षद्वीप दौरे के बाद, बॉलीवुड सितारों जैसे सलमान खान, अक्षय कुमार, और श्रद्धा कपूर, सहित क्रिकेटरों वेंकटेश प्रसाद, सचिन तेंदुलकर, हार्दिक पांड्या ने भारतीय पर्यटन क्षेत्र को समर्थन देने के लिए प्रशंसा व्यक्त की थी। हालांकि, इससे उत्पन्न विवाद के कारण मालदीव ने तीनों विवादित मंत्रियों को निलंबित कर दिया था। मालदीव सरकार ने इस मुद्दे पर कहा कि इन मंत्रियों की टिप्पणियां उनकी व्यक्तिगत राय हैं और वे सरकार के विचारों का प्रतिनिधित्व नहीं करतीं।

spot_img

Related articles

Article 370 के पहले वीकेंड में Yami Gautam की फिल्म ने की शानदार कमाई

यामी गौतम की फिल्म 'आर्टिकल 370' के ट्रेलर के रिलीज के बाद ही, उसके चारों ओर एक मजबूत...

UP Police कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा रद्द, 6 महीने में होगी दोबारा परीक्षा

UP Police कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा रद्द की गई। योगी सरकार ने 6 महीने के भीतर री-एग्जाम कराने का...

Meta लाया भारत में Instagram Marketplace, पार्टनरशिप बनी और आसान

Instagram Creator Marketplace अब भारत में लाइव है! Meta द्वारा प्रस्तुत, यह प्लेटफॉर्म ब्रांड्स और कॉन्टेंट क्रिएटर्स को...

Google ने Gemini AI की गलती स्वीकारी, इमेज फीचर पर लगाई रोक

Google ने ChatGPT के जवाब में Gemini AI लॉन्च किया, पर इमेज फीचर में समस्या आने पर इस...