Homeन्यूज़देशपहले ममता, फिर नीतीश… अब AAP की बारी? केजरीवाल ने किया नया ऐलान

पहले ममता, फिर नीतीश… अब AAP की बारी? केजरीवाल ने किया नया ऐलान

Date:

Share post:

ममता बनर्जी, नीतीश कुमार के बाद: अब AAP का नंबर? हरियाणा चुनाव में सभी सीटों पर अकेले लड़ने की घोषणा; रणनीति में बदलाव।

Arvind Kejriwal

लोकसभा चुनाव नजदीक हैं और इंडिया गठबंधन में हलचल है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य की सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया, फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने इंडिया गठबंधन के सूत्रधार नीतीश कुमार को शामिल करके विपक्ष को बड़ा झटका दिया। कुछ महीने पहले ही विपक्षी गठबंधन को एक के बाद एक, दो बड़े झटके लग चुके हैं और अब गठबंधन में आम आदमी पार्टी के भविष्य के बारे में भी कयासों का दौर तेज हो गया है।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने हाल ही में यह दावा किया है कि सूबे की सभी 13 लोकसभा सीटें आम आदमी पार्टी ही जीतेगी। पंजाब और दिल्ली में सीट शेयरिंग पर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस में चर्चा चल रही है और इन दोनों राज्यों की सत्ता पर काबिज पार्टी ने हरियाणा में भी तीन सीटों की मांग कर दी है। आम आदमी पार्टी हरियाणा में एक्टिव मोड में आ गई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा के जींद में बदलाव जनसभा को संबोधित किया। केजरीवाल के संबोधन में कांग्रेस को लेकर तल्खी भी दिखी और नरमी भी।

इंडिया से एग्जिट कर गए ममता-नीतीश

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सीट शेयरिंग के बारे में हाल ही में जारी खींचतान के बीच एक दिन पहले ऐलान किया कि टीएमसी सभी लोकसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी। इस घोषणा से इंडिया गठबंधन को पश्चिम बंगाल में झटका मिला और बिहार में नीतीश कुमार ने गच्चा दे दिया। विपक्षी एकता की पहल मुहिम में नीतीश की पार्टी, जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू), अब एनडीए में शामिल हो चुकी है।

हरियाणा में क्या बोले केजरीवाल

दिल्ली के सीएम ने उज्जवल भविष्य की राह में लोगों के भरोसे को बढ़ावा देते हुए कहा कि केवल आम आदमी पार्टी पर ही लोग विश्वास करते हैं। उन्होंने दिल्ली और पंजाब सरकार की सफलताओं का संदेह किया और हरियाणा के लिए बड़े बदलाव की आवश्यकता बताई। केजरीवाल ने कांग्रेस पर सीधा हमला नहीं किया, लेकिन पूर्व सरकारों की असफलताओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि लोगों की आशाएं बरकरार नहीं रहीं। उन्होंने जनता से सवालिया लहजे में कहा कि क्या कांग्रेस, बीजेपी, जेजेपी ऐसा कर सकती हैं? नहीं, केवल आम आदमी पार्टी ही यह कर सकती है। उन्होंने सूबे की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया और यह भी कहा कि लोकसभा चुनाव में भी हम इंडिया गठबंधन के बैनर तले लड़ेंगे।

Related articles

बांस व्यवसाय की सफलता राष्ट्रभर से आ रहे भरपूर आदेश

बिहार के पूर्णिया जिले के माँ-बेटे आशा अनुरागिनी और सत्यम् सुंदरम् ने पर्यावरण प्रेम के साथ बांस व्यापार...

हरियाणा में नई राह पहली महिला ड्रोन पायलट द्वारा किसानों की तकदीर में तकनीकी क्रांति

रसोई से लेकर बच्चों की शिक्षा तक, सब कुछ आधुनिक हो चुका है। इस समय, खेती के क्षेत्र...

जीवन में बुरी परिस्थितियां है इंसान को मजबूत बनाती है कुछ ऐसी कहानी है कमल कुंभार की

आधुनिक भारत की कहानी: चूड़ियों की कहानी एक समय था, जब एक साधारण गाँव की लड़की, कमल कुंभार, सिर्फ...

ऑटो रिक्शा चालक के बेटे ने रचा इतिहास! पहले ही प्रयास में बने देश के सबसे युवा IAS अधिकारी, प्रेरणादायक है इनकी कहानी!

अंसार शेख नाम का एक युवक, जिन्होंने अपनी लगन और कड़ी मेहनत से ना सिर्फ सपनों को उड़ान...